Franchise क्या है ? किसी कंपनी का फ्रैंचाइज़ी कैसे ले ? पूरी जानकारी

क्या आप जानते है की आप किसी कंपनी का फ्रैंचाइज़ी लेकर अपना बिज़नेस स्टार्ट कर सकते है और Day 1 से इनकम आना शुरू हो जायेगा। अगर आप चाहते है की आपका भी बिज़नेस हो और वो प्रॉफिट में रहे तो आपको ये जानना होगा की :-

  • Franchise क्या है
  • किसी कंपनी का Franchise Kaise Le?
  • फ्रैंचाइज़ी से क्या क्या फायदा होता है ?
  • आपके लिए फ्रैंचाइज़ी लेना सही रहेगा या नहीं और भी बहुत कुछ।

तो चलिए सबसे पहले ये तो समझ ले की फ्रैंचाइज़ी क्या होता है फिर समझेंगे की किसी पॉपुलर और प्रॉफिटेबल कंपनी का फ्रैंचाइज़ी कैसे लिया जाता है।

kisi company ka franchise kaise le

फ्रैंचाइज़ी क्या है ?

जब आप किसी कंपनी के प्रोडक्ट को उस कंपनी के Authorisation परमिशन लेकर आप sell करते है और उस कंपनी के ब्रांड के एक्टिविटी को भी अपने एरिया में काम करते है तो ऐसे में वो कंपनी जो आपको परमिशन दिया उसी परमिशन को फ्रैंचाइज़ी कहते है।

अगर आसान भाषा में कहा जाये तो , फ्रैंचाइज़ी वो तरीका जिससे किसी भी कंपनी के प्रोडक्ट, लोगो , ब्रांड पॉपुलैरिटी का इस्तेमाल करके उसके ही प्रोडक्ट को जब आप कस्टमर को बेचते है तो ऐसे तरीके को फ्रैंचाइज़ी लेकर बिज़नेस करना कहा जाता है।

मैंने पहला फ्रैंचाइज़ी कैसे लिया ?

मेरे फैमिली में सबसे पहली बार ट्रैक्टर जिसका इस्तेमाल किसान अपने खेतो में करते है उसका फ्रैंचाइज़ी लिया गया था , वो समय तहत 2007 और उसी समय मुझे पता चला की ये फ्रैंचाइज़ी क्या होता है और इसको कैसे लिया जाता है।

मुझे याद है वो दिन जब मेरे Guardian ने Newspaper में उस कंपनी के फ्रैंचाइज़ी के बारे में Ad आया था तो उसी समय उस फ़ोन नंबर पर कॉल करके बात किया गया और फिर उसके बाद डायरेक्ट ऑफिस जाकर विजिट करने के बाद सारे पेपरवर्क करने पर हमें उस ट्रैक्टर कंपनी का फ्रैंचाइज़ी मिल गया।

और इसका फायदा ये हुआ की एक झटके में उस कंपनी के बने बनाये मार्केट में जाकर प्रोडक्ट सेल करना शुरू कर दिया, हाँ एक काम जरूर करना पड़ा की अपने एजेंट मतलब सेल्समेन को किसान के पास भेजकर फाइनल करना होता था क्योकि मार्केट में पहले से ही बहुत सारे कंपनी के गाड़ी available था।

ऐसे में आप भी सोचते होंगे की क्या ,

फ्रैंचाइज़ी मॉडल पर बिज़नेस करना फायदेमंद है या नहीं ?

तो इसका जबाब है , हाँ ,100% फायदेमंद होता है ये चीज मैंने खुद अपने एक्सपीरियंस से बोल रहा हूँ।

देखिये अगर आप अपने खुद से कोई प्रोडक्ट बनाएंगे तो लाखो नहीं बल्कि करोड़ो रूपये लगेंगे इसके लिए फैक्ट्री लगाना होगा या जो प्रोडक्ट बेचेंगे उसका ब्रांडिंग करना होगा।

पहले तो लोगो तक पहुंचना होगा तभी जाकर लोग आपसे वो प्रोडक्ट लेंगे लेकिन आप चाहते है की कोई कंपनी है जिसका प्रोडक्ट पहले से लोग पसंद कर रहे है तो आप उस कंपनी के फ्रैंचाइज़ी लेकर उसी सामान को बेचना शुरू करेंगे तो आपको अलग से कस्टमर खोजने के लिए मेहनत नहीं करना पड़ेगा।

मतलब की काम खर्च में एक बिज़नेस स्टार्ट हो जायेगा।

किसी कंपनी का फ्रैंचाइज़ी कैसे ले ?

अगर आप भी किसी कंपनी का फ्रैंचाइज़ी लेकर बिज़नेस करना चाहते है तो आपके पास दो तीन तरीका है जिससे की आप उस कंपनी का फ्रैंचाइज़ी ले सकते है।

पहला ये है की आप जब किसी कंपनी का फ्रैंचाइज़ी का Ad किसी newspaper में देखे तो उसमे दिए गए कांटेक्ट नंबर या या ईमेल पर मेल भेजकर इसके कांटेक्ट कर सकते है।

दूसरा तरीका है की आप जिस कंपनी का फ्रैंचाइज़ी लेना चाहते है उसके ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर “Work With US” या “Partner with us” इस तरह का कुछ लिंक दिखेगा तो उसपर जाकर फॉर्म बाहर दीजियेगा तो वो लोग उसका फीडबैक देंगे या रिप्लाई में आगे का प्रोसेस बता देंगे।

अगर वो नहीं मिले तो ऑफिसियल वेबसाइट पर ही Contact Us का मेनू दिखेगा तो वहां जाकर आप उनको मेल लिखिए की आप उनके फ्रैंचाइज़ी में इंटेरेस्टेड है तो फिर वो लोग सही रास्ता बता देंगे की उनके किस डिपार्टमेंट से कांटेक्ट करना है.

फ्रैंचाइज़ी बिज़नेस के नुकसान क्या क्या है ?

वैसे तो फ्रैंचाइज़ी बिज़नेस के कोई खास नुकसान नहीं होता है लेकिन फिर भी कुछ चीजे है जिसको आप शायद पसंद नहीं करेंगे जैसे की :-

  • फ्रैंचाइज़ी जो कंपनी देंगे वो कुछ लिमिटेशन लगा देगा की उसके प्रोडक्ट को आप अपने अनुसार कोई भी चीज चेंज करके मार्केटिंग सेल नहीं कर सकते है।
  • वो आपसे शुरू में कुछ अमाउंट फ्रैंचाइज़ी फी के रूप में ले लेंगे
  • आप जो प्रोडक्ट सेल करेंगे उसपर वो रॉयलिटी फी ले लेंगे।
  • वो जब चाहे आपसे फ्रैंचाइज़ी एग्रीमेंट कैंसिल भी कर देंगे।
  • उसके अनुसार आपके ऑफिस तक का डिज़ाइन होगा।

ये सब चीजे है जिसको आज के युवा पसंद नहीं करते है लेकिन आपको तो पता है जहाँ पर फायदा है वह पर कुछ न कुछ एडजस्ट करना ही होता है क्योकि ओवरआल वो कंपनी अपना ब्रांडिंग करने में लाखो खर्च करते है।

फ्रैंचाइज़ी खोलने में कितना खर्च होता है?

यह निर्भर कंपनी के ऊपर करता है जैसे कोई कंपनी 5 लाख तो कोई 10 तक में फ्रैंचाइज़ी देता है।

फ्रैंचाइज़ी लेने से क्या फायदा होता है ?

पहले दिन से ही आपको कस्टमर मिल जाता है और बिज़नेस आगे बढ़ाने के लिए सरे सुविधा मिलता है।

फ्रैंचाइज़ी खरीदने से क्या नुकसान है?

जिसका आप फ्रैंचाइज़ी लिए उसके कण्ट्रोल में रहना होता है और शुरुआत में कुछ सिक्योरिटी डिपाजिट करना होता है।

12 महीने चलने वाला बिज़नेस कौन सा है ?

चाय का बिज़नेस या मेकअप का बिज़नेस या स्नैक्स जैसे बिस्किट etc.

इसको शेयर जरुर करे और दुसरो को मदद करे
Ajay Kumar

He is a web developer, social media influencer and core programmer who love to write code, apart from this he loves to write tech article and share via social media. Right Now I Am A YouTuber And Investor In Share Market And Mutual Funds