Web 3.0 Kya hai? Feature Explained हिंदी में

Web 3.0 Kya hai? Feature Explained हिंदी में

दोस्तों, आज के इस पोस्ट में आप जानेंगे की Web 3.0 ka matlab kya hota hai और उसके साथ ही साथ आपको जानकारी मिलेगी की :-

  • Web 3.0 kya hai
  • Web 3.0 key features
  • Why Web 3.0 will change website world? etc.

Web 3.0 Kya hai ?

सबसे पहले आपको दिल से बधाई की आपके मन में नयी नयी technology से जुड़े हुए सवाल आते है क्योकि इसी तरह के सवालो का जबाब देने के लिए इस वेबसाइट पर आपको बहुत सारे आर्टिकल मिल जायेंगे |

दोस्तों, आपको web 3.0 को एकदम सही सही समझने के लिए इसके पुराने version या standard को समझना होगा की आखिर web 1.0 में क्या था और web 2.0 क्या होता है और उस दोनों में ऐसी क्या दिक्कत हुयी जिसके कारण web 3.0 आया |

Web 1.0 Vs 2.0 Vs 3.0 Comparison

web 3.0 kya hai
Web 3.0 Kya hai? Feature Explained हिंदी में 3

जैसा की आप जानते होंगे की web 1.0 में पहले वाले वेबसाइट जिसमे सिर्फ और सिर्फ एक side से जिसे वेबसाइट owner भी कहते है वो पोस्ट कर देता था और जितने भी इन्टरनेट user है वो सिर्फ वेबसाइट access करके वेबसाइट पर रखे material जो की सिर्फ text ही होता था वही देख सकते थे और इसके अलावा कुछ नही कर सकते थे |

आप भी अभी सोच रहे होंगे की यार कितना बेकार होता था पहले का वेबसाइट, लेकिन आप अच्छे से जानते है की किसी भी चीज का खोज एकाएक नही होता है और वो web 1.0 standard जो था वो first step था वेबसाइट के field में |

अब आईये web 2.0 के बारे में जानते है की web 2.0 क्या होता है और इसमें क्या क्या सुधार किया गया ?इसमें आपको सबसे पहले ये बता दूँ की अभी फ़िलहाल लगभग सभी blog web 2.0  पर ही आधारित है , ये आर्टिकल मैं 14 दिसम्बर 2018 को लिख रहा हूँ और अभी तक मैं अपने ब्लॉग में web 2.0 standard ही इस्तेमाल कर रहा हूँ |

अब आप भी सोच रहे होंगे की पहले web 2.0 समझ लेते है ताकि web 3.0 समझने में आसानी होगी क्योकि आखिर जो चीज web 2.0 में होगा वही 3.0 में होगा साथ ही साथ कुछ extra key feature होंगे |

Web 2.0 Kya hai ?

जैसे वेब 1.0 में आप सिर्फ text लिख सकते थे वैसे अब web 2.0 में आप लिखने के साथ साथ अलग अलग तरह के rich मीडिया के साथ साथ  नए web और internet standard को भी वेबसाइट follow करने लग गया  इतना ही नही web 2.0 में user इंटरेक्शन की facility भी शुरू हो गयी |

User Interaction का मतलब होता है की एक तरफ से वेबसाइट owner अपना आर्टिकल तो लिख कर दुनिया में दिखायेंगे ही लेकिन उसके साथ ही साथ उस आर्टिकल के देखने वाला अपनी प्रतिक्रिया भी दे सकता है जैसे अगर आप चाहेंगे की ये पोस्ट कैसा लगा तो आप last में comment section में comment करके अपनी बात रख सकते है |

जैसे कोई भी सोशल मीडिया वेबसाइट पर जो भी कोई पोस्ट डालता है तो उसपर लोग अपने अपने reaction भी देते है, ये तो हुयी वेब 2.0 की अब समझते है की 

     यह भी पढ़े  VFX Kya Hai? हिंदी में सीखे

Web 3.0 Explained

web 3 kya hai
Web 3.0 Kya hai? Feature Explained हिंदी में 4

एक बात मजेदार है की इस पोस्ट को लिखने तक web 3.0 को ऑफिशियली define नही किया गया है लेकिन Web 3.0 ke key feature जरुर बताये जा चुके है और अब तो कुछ website web 3.0 वाली facility इस्तेमाल भी कर रहे है जैसे google या facebook या instagram etc वेबसाइट web 3.0 based है |

असल में web 3.0 में एक नया feature add किया गया है जो की है artificial intelligence | इसका सीधा मतलब है की जो website web 3.0 based होगा उस वेबसाइट में artificial intelligence का इस्तेमाल करते हुए  user को क्या result देना है या क्या दिखाना है ये निर्भर करेगा |

अब आप सोचेंगे की यार ये तो कुछ ज्यादा confusing technology का term हो गया ,ऐसे में मै किसलिए हू? आपको अब बहुत ही आसान भाषा में समझाता हूँ |

आपको एकदम अच्छे से समझाने के लिए आपके सामने एक real life example देता हूँ ताकि आप समझ पाएंगे की web 3.0 क्या होता है और इसमें कैसे काम करेगा |

मान लीजिये की आपको search करना है की अभी अभी भारत सरकार द्वारा लांच किया गया Insurance Policy जो की आयुष्मान भारत योजना Ayushman Bharat Yojana के नाम से जाना जाता है ऐसे में अगर जैसे ही किसी वेबसाइट पर आप सिर्फ़ भारत search करेंगे तो आपके सामने Ayushman Bharat Yojana का result आ जायेगा जो की आप सच में यही खोज रहे थे 

लेकिन यही चीज को दूसरा आदमी वो अपने मोबाइल या कंप्यूटर से जब search करेगा और उसको Ayushman Bharat Yojana नही जानना था बल्कि वो जानना चाह रहा था की ayushman का मतलब क्या होता है तो उसको उसी के अनुसार जब result देगा तो वो standard web 3.0 कहलायेगा |

अब देखिये ऐसे में हर एक user के लिए एक ही चीज को अलग अलग तरह से दिखाया जायेगा जिससे जो लोग जो चीज खोज रहा है या जिसके बारे में जानकारी लेना चाह रहा है वही मिलेगा  तो सोचिये की बिना आर्टिफीसियल intelligence के क्या ऐसा संभव है ?

आपको इसका लाइव example google पर देखने को मिल सकता है या facebook पर भी लेकिन अभी ये सब भी पूरी तरह web 3.0 standard को नही follow कर पा रहा है लेकिन आने वाले future में इसका फायदा देखने को जरुर मिलेगा |

अब तो आप समझ गये है की Web 3.0 kya hai

इसको शेयर जरुर करे और दुसरो को मदद करे
Ajay Kumar

He is a web developer, social media influencer and core programmer who love to write code, apart from this he loves to write tech article and share via social media. Right Now I Am A YouTuber And Investor In Share Market And Mutual Funds

6 thoughts on “Web 3.0 Kya hai? Feature Explained हिंदी में

  1. Bohot aacha information he bhai..Thanks for sharing with us. Mujhe sirf web 2.0 ke bare me hi pata tha lekin aaj aapse web 3.0 ke bare me v jana. Thanks again.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *