Personal Loan For Self Employed (Get in 2 Days)

ये पोस्ट Personal Loan For Self Employed से रिलेटेड है अगर आपको कोई काम आ गया है और उसमे पैसे की बहुत जरूरत है तो ऐसे में आप सोचते है की कोई भी बैंक 2 से 5 दिन में लोन दे दे जिससे आपका काम हो जायेगा।

Personal Loan For Self Employed

लोन के तो बहुत सारे टाइप होते है जैसे की

  • पर्सनल लोन (Personal Loan For Self Employed)
  • होम लोन
  • एजुकेशन लोन
  • Loan Against Property (LAP)
  • Loan Agains Insurance Policy
  • Gold Loan
  • Business Loan
  • Vehicle Loan etc.

Personal Loan Kya Hai?

देखिये हर टाइप के जो लोन है वो एक स्पेशल Reason के लिए है जैसे की होम लोन से सिर्फ घर बनाने के लिए ले सकते है और Car Loan से सिर्फ Vehicle ही ले सकते है लेकिन Personal Loan एक ऐसा लोन है जो किसी भी Reason के लिए ले सकते है

इसमें ऐसा कोई फिक्स नहीं है की आप पर्सनल लोन सिर्फ स्पेशल कारण के लिए ही लेंगे , चूँकि इसका नाम ही पर्सनल लोन है तो ये पर्सनल कोई भी काम के लिए लिया जा सकता है।

पर्सनल लोन एक तरह से Unsecure लोन होता है और Unsecure लोन पर Rate of Interest बहुत ज्यादा होता है।

Personal Loan For Self Employed

राजीव जो मेरा करीबी दोस्त है वो कुछ दिन पहले बैंक गया था पर्सनल लोन लेने के लिए और उसको बैंक वाले नहीं पर्सनल लोन नहीं दिया , जब मैंने उससे पूछा की आखिर क्यों नहीं दिया तो उसने बोला की Personal Loan सिर्फ सैलरी वाले लोगो को ही मिलता है।

अब अगर कोई Self Employed है तो वो लोन कैसे लेगा ? आखिर सब लोग नौकरी ही तो नहीं करते है न, क्या कोई ऐसा लोन है जो सेल्फ एम्प्लॉयड को मिल सकता है ?

सोचिये अगर राजीव की जगह आप ही Self Employed है तो ऐसे में आपके पास सैलरी तो होगा नहीं अगर होगा सिर्फ एक अपना बिज़नेस , बिज़नेस इसलिए की अभी बात हो रही है self employed की।

अब इसके बाद मै HDFC बैंक गया जिसके ब्रांच मैनेजर मेरे बहुत करीबी जान पहचान के है और मैंने उनसे पूछा की यार ये बताओ की आपलोग पर्सनल लोन किसको देते है और सेल्फ employee को पर्सनल लोन देने से क्यों घबराते है जबकि जरूरत तो सबको होता है।

Personal Loan For Self Employed

Personal Loan For Salaried Employees

वो ब्रांच मैनेजर ने बोला की बैंक जब भी कोई लोन देती है तो ये ध्यान में रखती है की लोन का पैसा ब्याज सहित रिकवर हो जायेगा और अगर बैंक को लगेगा की जो लोग लोन लेने आये है वो पैसे लेने के बाद पैसे नहीं चुकाएंगे तो बैंक ऐसे लोगो को पैसे देने से कतराती है।

अब जब बात आती है पर्सनल लोन की तो जो भी Salaried Employees होते है चाहे वो गवर्नमेंट नौकरी वाले हो या प्राइवेट नौकरी वाले लेकिन काम से काम ये अंदाजा रहता है की वो हर महीने कितना कमा रहे है और जो लोन लेनेगे उनके पास पैसे कमाने का एक जरिया है।

जब सैलरी आ रहा है मतलब लोन लेने के बाद लोन चूका भी सकता है इसलिए पर्सनल लोन salaried वालो को दिया जाता है लेकिन जो self employed होते है उनके पास ये गारंटी नहीं रहता है इसलिए पर्सनल लोन नहीं दे सकते है।

Self Employed Loans Near Me

अब ब्रांच मैनेजर से मैंने पूछा की अब ये बताईये की जो मेरा दोस्त है वो self employed है और उसको लोन चाहिए तो ऐसे में वो आपके बैंक या किसी भी बैंक से लोन कैसे ले सकता है ?

तो उन्होंने बताया की अपने दोस्त को बोलिये की वो बिज़नेस लोन ले सकते है तो मैंने पूछा वो कैसे ? तो उन्होंने बताया की जैसे सैलरी वाले लोग पर्सनल लोन आसानी से ले लेते है ये गारंटी पर की उनको हर महीने काम से काम इतनी रकम तो आएगी ही वैसे ही बिज़नेस लोन self employed के लिए होता है।

अब मैंने पूछा की Self Employed के लिए जो Business Loan होगा उसके लिए क्या क्या document चाहिए तो उन्होंने बताया की उसके लिए Business Proof और Income Proof जैसे Turnover का proof दिखाना होगा।

और अब आप सोचते होंगे की ये सब कहाँ से लाएंगे तो चुकी आप self employed है तो इसका मतलब आप कोई न कोई बिज़नेस कर रहे होंगे।

Read : Proprietorship Firm Registration Kaise Kare?

प्रूफ के लिए आप Udyam Registration का प्रूफ इसके बाद आपके बिज़नेस का GST Registration और पिछले 2 से 3 सालो का टर्नओवर डिटेल्स देना होगा जिससे बैंक को ट्रस्ट होगा की आपके पास पैसे आने का source है और आप अपना बिज़नेस बढ़ाने के लिए लोन लेना चाहते है।

personal loan self employed gst registration

और इस तरह से आप बैंक से लोन लेकर आपका जो भी काम होगा वो काम कर सकते है।

इसको शेयर जरुर करे और दुसरो को मदद करे
Ajay Kumar

He is a web developer, social media influencer and core programmer who love to write code, apart from this he loves to write tech article and share via social media. Right Now I Am A YouTuber And Investor In Share Market And Mutual Funds